क्या है PCOD,कम उम्र की लड़कियां भी हो रही हैं शिकार..

PCOD OR PCOS, SYMPTOMS, EFFECTS AND PREVENTION HINDI

What is Polycystic Ovarian Disease, PCOD in girls, PCOD Causes & Treatment, क्या है PCOD, लड़कियां, पॉली सिस्टिक ओवेरियन डिजीज, PCOS, androgen, पॉली सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम, पॉली सिस्टिक ओवरी डिसऑर्डर', ओवरी में सिस्ट्स, हार्मोनल असंतुलन,पीरियड्स की समस्या

PCOS PCOD Symptoms,Effects &Treatment in hindi


Polycystic Ovary Disorder (PCOD)

Polycystic ovary syndrome (PCOS)


रोज़ की भागदौड़ भरी ज़िन्दगी के कारण महिलाएं  अपनी सेहत का ख्याल नहीं रख पाती, जिसका ख़ामिआज़ा उनकी सेहत को भुगतना पड़ता है. आज की महिला SELF INDEPENDENT है , घर के साथ साथ उन्हें काम का भी देखना पड़ता है दोनों चीज़ों को देखने में जो बैलेंस का एहम योगदान है उसके चक्कर में महिलाये अपना खाना पीना ,सेहत का ध्यान तक भूल जाती है.


pcos pcod symptoms causes and treatment



शरीर को अनदेखा करने की वजह से ही बीमारियां उन्हें घेर लेती है. इन्ही बिमारियों में से एक बीमारी है PCOD या PCOS . पहले ये बीमारी ३० से ३५ साल की महिलाओं में ही पायी जाती थी पर अब तो ये कम उम्र की लड़कियों १८-२५ साल की में भी पायी जाती है. यु कहो तो १० में से ८ महिलाएं इस रोग से ग्रस्त है .


और पढ़े Cervical Spondylosis symptoms, causes and Prevention 



SYMPTOMS 


NATURE MANTRA PCOS PCOD



इस बीमारी से महिला के शरीर में मेल हार्मोन का स्तर बड़ जाता है. परिणाम स्वरूप  OVARY में गांठ पड़ जाती है.हैरानी की बात तो यह है कि अभी तक विज्ञानी भी इस बीमारी के पैदा होने के कारण पता नहीं कर सके . अभी इस बारे में रिसर्च चल रही है.पर विज्ञानियों का मानना है की इसका कारण हार्मोन इम्बैलेंस , तनाव या  मोटापा भी हो सकता है. मोटापे के कारण बनने वाली चर्बी से ऐस्ट्रोजन हार्मोन बढ़ता है जिसके कारण OVARY में सिस्ट्स या गाँठ बन्ननी शुरू हो जाती है.

पहचान कैसे करे :


NATURE MANTRA PCOS PCOD


  • अनियमित पीरियड्स                 
  • शरीर में मोटापे का आना
  • शरीर में अनचाहे वालों का बढ़ना
  • तनावग्रस्त रहना
  • स्वभाव में चिड़चिड़ा होना
  • बाँझपन का बढ़ना
  • शरीर पर धब्बे  होना
  • मुहासे होना
  • बालों में रूसी का होना
  • त्वचा का तेलिये होना


PCOS PCOD Symptoms,Effects &Treatment in hindi

HOW TO PREVENT:

 बचाव :


  • कुदरत के साथ जुड़िये 
  • DAILY EXCERCISE आप को तारो ताज़ा महसूस कराती है
  • रोज़ाना की सैर या कसरत से शरीर तंदरुस्त और तरोताज़ा महसूस करता है. इसलिए आज से ही इस आदत को अपनाये .
  • सुबह की ताज़ी हवा में टहलने से आप अपने आप में बदलाव महसूस करेंगे.
  • संगीत सुने किताबे पढ़े योगा से भी आराम मिलता है
  • MEDITATION से आप तनाव से मुक्त हो सकते हैं 
  • जॉगिंग(JOGGING)डांसिंग(DANCING)या साइकिलिंग(CYCLING) करने से ही आपके पीरियड्स रेगुलर हो जायेंगे 
  • जंक फ़ूड(JUNK FOOD) सॉफ्ट ड्रिंक्स(COLD SOFT DRINKS)को आज ही छोड़ दे ये आप की सेहत से खिलवाड़ कर रहे हैं.
  • हरी सब्ज़ियों का प्रयोग ज़्यादा से ज़्यादा करे 
  • OMEGA-3 फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करे 
  • ड्राई फ्रूट्स(DRY FRUITS/NUTS) का इस्तेमाल ज़्यादा करे
  • FRUITARIANS बने ताज़ा फलों का ही सेवन कीजिये
  • मीठे से परहेज करे 
  • पानी ज़्यादा से ज़्यादा पीजिये 
  • डब्बाबंद फ़ूड खाने से परहेज करे
  • ड्रग्स(DRUGS)को लेना बंद करे अगर आप ड्रग एडिक्टेड(DRUG ADDICTED) है 

NATURE MANTRA PCOS PCOD


छोटी सी बुरी आदतों का खामियजा पुरे शरीर को भुगतना पड़ता है . इस लिए आज से ही अपनी जीवन शैली को बदलिए. कुदरत के साथ ज़्यादा समय बिताये . अगर आप को यह आर्टिकल अच्छा लगे तो ज़रूर अपनी फीडबैक दीजिये. 


PCOS PCOD Symptoms, Effects &Treatment in Hindi

क्या है PCOD,कम उम्र की लड़कियां भी हो रही हैं शिकार..