benefits of balanced diet in hindi|जानिए संतुलित और पौष्टिक भोजन ( Balanced Diet )खाने के लाभ

जानिए संतुलित और पौष्टिक भोजन ( Balanced Diet )खाने के लाभ


संतुलित आहार चार्ट ,इसके फायदे और जरूरी तत्व Balance Diet Chart


संतुलित भोजन(Balanced Diet ) का हमारी जीवनशैली में बहुत महत्त्व है। एक संतुलित जीवन के लिए संतुलित और पौष्टिक आहार का होना अति आवश्यक है। भारत जैसे देश में हर साल 40 हज़ार बच्चे कपोषण और उचित आहार न मिलने के कारण अपना दम तोड़ रहे है कारण विटामिन ए की कमी , रोग प्रतिरोधक क्षमता की कमी और आहार जिसके कारण बीमारियां उन्हें घेर कर बेबस कर देती है मरने के लिए। स्त्रियां भी उचित आहार मिलने के आभाव से बिमारियों से ग्रस्त हो बच्चो को जनम देती है और यही बच्चे इन्ही कमियों के साथ जन्म लेके फिर मर जाते है। कुपोषण के कारण शरीर की लड़ने की क्षमता कम हो जाती है और संक्रामक  रोग उन्हें घेर लेते है। 


हमारे शरीर को मजबूत और फिट रहने के लिए एक आहार की नहीं बल्कि ऐसे कई पौष्टिक आहारों और ऊर्जा  की ज़रुरत होती है जो अलग अलग प्रकार के भोजन स्रोतों से  मिलती है। आदमी ,औरतों और बच्चों को अलग अलग आहार की ज़रुरत होती है खासकर बच्चों को ज़्यादा जब वे शारीरक विकास की और बढ़ रहे हो। प्रेगनेंसी और स्तनपान कराने वाली महिलाओं  को ज़्यादा पोषक तत्वों की ज़रुरत होती है। 



संतुलित भोजन क्या होता है 


संतुलित भोजन एक ऐसा आहार जिससे हमारे खाने में तमाम प्रोटीन, कार्बोहिड्रेटस,वासा,खनिज और विटामिन्स जिनकी हमें सख्त ज़रुरत होती है फिट रहने के लिए मैजूद हो। हमारे शरीर को जीने के लिए जो ऊर्जा मिलती है वो हमें खाद्य पदार्थों युक्त भोजन खाने से ही मिलती है जिससे शरीर का उचित विकास होता है। ऐसे संतुलित आहार खाने से शरीर को विकास तो मिलता ही है साथ में हमें रोगों से लड़ने की क्षमता भी मिलती है। 


संतुलित भोजन कैसे लेना चाहिए 

किसी एक प्रकार के भोजन से उचित पोषण नहीं मिलता आईये जानते है :


  • भोजन में दाल ,चावल, रोटी हरी सब्जियां ,फल ,सलाद और अंडे शामिल करने चाहिए। 
  • गर्भवती स्त्रियों को कुपोषण से बचने के लिए अपने आहार में दूध ,फल, हरी सब्जियां और सोयाबीन को ज़रूर शामिल करना चाहिए। 
  • संतुलित भोजन के अनुसार एक आदमी को ऊर्जा के लिए 2800 कैलोरी ऊर्जा और औरत को 2300 कैलोरी ऊर्जा की आवश्यकता होती है। 
  • संतुलित भोजन के लिए एक गर्भवती स्त्री की 2600 कैलोरी और एक स्तनपान कराने वाली स्त्री को 3000 कैलोरी ऊर्जा की आवश्यकता होती है। 
  • 4 -5 वर्ष के बच्चों को 1000 से लेकर 2400 ,6 -7 वर्ष के बच्चों को 1300 कैलोरी ,10 -11 वर्ष के बच्चों को 1500 कैलोरी और 12 -15 वर्ष के बच्चों को 2400  कैलोरी की आवश्यकता होती है। 



संतुलित भोजन को किस प्रकार खाना चाहिए के पोषण कम न हो 


  • सब्जियों को ज़्यादा घी में तल कर मिर्च मसाले लगाने से उनके पोषक तत्व ख़त्म हो जाते है। 
  • सब्जियों को हमेशा धो कर और छील कर ही पकाना चाहिए। 
  • हरी सब्जियों को ज़्यादा नहीं पकाना चाहिए। 
  • उबली सब्जियों का कभी पानी फेकना नहीं चाहिए  बल्कि उसी में आटा  गूंध लेना चाहिए। 
  • सब्जी को हमेशा धोने से पहले ही काटना चाहिए।  काटने  के बाद धोने से उसके पौषक तत्व नष्ट हो जाते है। 
  • खाने की चीज़ों को हमेशा सादे ढंग से ही पकाये कोई भी सोडा न डालें। 
  • चावल को हमेशा कम पानी में ढक कर ही पकाये। 
  • कटी हुई सब्जियों को फ़ौरन बनाले बाद में इसके पौषक तत्व नष्ट हो जाते है। 



संतुलित भोजन खाने को नियमों अनुसार ही खाना चाहिए 


  • खाने को हमेशा भूख लगने पर ही खाये बिना मतलब खाना व्यर्थ है। 
  • खाने के बाद तुरंत सोना नहीं चाहिए। 
  • खाने को चबा चबा कर ही खाना चाहिए। 
  • हमेशा ताज़ा खाना ही खाये  बासी खाने से परहेज करे। 
  • भोजन के साथ और बाद में पानी नहीं पीना चाहिए। 
  • खाने को सही समय सारनी अनुसार ही खाना चाहिए। 
  • रात के समय हलकी भोजन ही करे। 

benefits of balanced diet in hindi| जानिए संतुलित और पौष्टिक भोजन ( Balanced Diet )खाने के लाभ